Tent City 2023: नया साल, नया टूर, चले Tent City, बुकिंग करें

Varanasi Tent City 2023: हमारे प्रिय साथियों, आज का विषय बड़ा ही रोचक होने वाला है क्योंकि हम यहां पर बात कर रहे हैं, टेंट सिटी के उद्घाटन की। आप सभी जानते हैं कि भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र दास दामोदर मोदी जी के द्वारा गंगा के किनारे बसी रिटर्न सिटी का वर्चुअल के माध्यम से उद्घाटन किया है। आज के लेख में हम समझेगे की Tent City क्या है, इसके उद्घाटन के पीछे का उद्देश्य क्या है।

आज का यह लेख एक रोचक मोड़ की ओर आप लोगों को ले जाने वाला है तो चलिए सफर में देखते हैं आगे क्या-क्या पड़ाव आएंगे तो अगर आपको इससे संबंधित जानकारी हासिल करनी तो आपको हमारे साथ अंत तक बने रहना होगा और आर्टिकल को भी पूरा पढ़ना होगा।

Varanasi Tent City 2023 min

Varanasi Tent City

आप सभी लोग इस बात से तो वाकिफ होंगे कि आज के आधुनिक युग में रेस्टोरेंट होटल को लेकर नौजवान असल में एक लहर सी दौड़ हुई है। अभी हाल ही में आप लोगों को मालूम होगा कि लोग अपने वेकेशन पर विभिन्न प्रकार के फॉर्म होटलों में जाकर अपनी छुट्टियों का मजा लेते हैं। और जिसके लिए लोग लाखों रुपए खर्च करते हैं।

परंतु आज हम जिस टेंट सिटी की चर्चा करने जा रहे हैं देश के बिल्कुल उलट है क्योंकि उसमें आपको एक फाइव स्टार होटल जैसी सुविधाएं तो प्राप्त होंगी लेकिन उसमें आपको दो महत्वपूर्ण लाभ प्राप्त होंगे. पहला तो यह कि आपको कम कीमत पर एक फाइव स्टार रेस्टोरेंट का होटल जैसी सुविधा उपलब्ध होगी इसके साथ साथ इसमें बुकिंग का पैटर्न भी बहुत आसान है जिसके माध्यम से आप इसे आसानी पूर्वक बुक करके इस सिटी का आनंद उठा सकते हैं।

SSC MTS Havaldar Syllabus 2023 का नया सिलेबस जारी, एक क्लिक से करे डाउनलोड

Bharatpe App Cashback Offer: इस ऐप से मिलेंगे हर महीने 1000 रुपये Cashback

वाराणसी के टेंट सिटी अस्सी घाट के सामने बने टेंट सिटी कॉटेज के लिए ऑनलाइन बुकिंग अब शुरू कर दी गई है अगर आप इसके लिए इच्छुक हैं तो आप हमारे द्वारा दिए गए बुकिंग के पैटर्न को फॉलो कर इसमें बुकिंग करा सकते हैं और अपनी लाइफ कुछ समय वहां पर व्यतीत कर रेस्ट प्राप्त कर सकते हैं।

Varanasi Tent City की एक झलक

सिटी को वाराणसी के काशी और बनारस के नाम से भी जाना जाता है. उत्तर प्रदेश में स्थित वाराणसी भारत का एक पवित्र और आध्यात्मिक शहर रहा है। इसकी सबसे महत्वपूर्ण और खास बात यही किए प्राचीन शहरों में से एक शहर है. यहां के लोग प्राचीन काल में गंगा की डुबकी लगाने के लिए आया करते थे क्योंकि उनकी ऐसी मान्यता है कि इस पवित्र गंगा में नाहा कर उनके सब पाप धुल जाते हैं और उनके कष्ट दूर हो जाते है और वे एक सुकून भरी जिंदगी व्यतीत करते हैं।

इसके साथ साथ गंगा को लेकर भारतीय उपमहाद्वीप में विभिन्न प्रकार की मान्यता है आज भी प्रचलित है जो देखने में आती रहती हैं। हिंदू धर्म में आज भी लोग अपने बुजुर्गों की अस्थियों को गंगा में विसर्जित कर देते हैं जिससे उनकी यह मान्यता जुड़ी हुई है इस गंगा से उनकी आत्माएं पवित्र होकर स्वर्ग की ओर प्रस्थान कर जाती है। और उनके द्वारा किए गए दुनिया में कर्मा से उनको शुद्ध कर दिया जाता है।

IDFC First Bank Personal Loan 2023: 25 लाख तक का Instant लोन | सबसे सटीक – सबसे तेज

SSC GD Exam 2023 Samas (MCQ): समास से जुड़ें वस्तुनिष्ठ प्रश्न (हिन्दी समास)

Tent City का उद्देश्य 

भारत सरकार ने Tent City की स्थापना टूरिज्म को बढ़ावा देने के उद्देश्य से प्रारंभ किया है. जिसके माध्यम से विदेशी यहां पर आकर हमारी प्राचीन मान्यताओं को भी अपने दिलो गहराइयों से समझेंगे. उनके साथ एक गुलाब सा महसूस करेंगे। इसके साथ-साथ उन्हें एक फाइव स्टार रेस्टोरेंट जैसी सुविधाएं उपलब्ध होंगी जोकि कम कीमत पर होंगी और इसके बुकिंग का तरीका भी काफी आसान है। इस के साथ-साथ विभिन्न प्रकार की नई चीज और एक्टिवेशन और कार्यक्रम को भी आयोजित की जाने के लिए बनारस टेंट सिटी को प्लान किया गया है।

नदी के किनारे बसे Tent City का एक्सपीरियंस लेने के लिए ऋषिकेश नहीं बल्कि बनारस का प्लान बनाया जाए तो काफी लाभदायक पूर्ण सिद्ध होगा। इसके अलावा गंगा के किनारे रेत में करीब 200 टेंट बनाए गए यहां पर आपको बनारस की एक नई छवि देखने को मिलेगी। टेंट सिटी को गुजरात के कच्छ और राजस्थान की टेंट सिटी के आधार पर विकसित किया गया है। आप लोग देखेंगे कि टेंट को तीन स्तरों पर व्यवस्थित किया गया है जिसमें 10 हेक्टर में फैली Tent City को तीन क्लस्टर में बांटा गया है. इसके प्रत्येक कलस्टर में 200 टेंट है.

NSP Payment Status: यहाँ चेक करें अपना स्कॉलरशिप का पेमेंट स्टेटस

Hajj Yatra 2023: 26 जून से 1 जुलाई तक चलेगी हज़ यात्रा, 1.50 लाख से अधिक यात्री इस साल कर पाएंगे हज़

इसमें आपको बिना सुपर डीलक्स और डीलक्स रूम की व्यवस्था देखने को मिलेगी। इसके साथ आपके रहने के लिए स्विस कॉटेज रिसेप्शन एरिया, गेमिंग जोन, रेस्टोरेंट, डायनिंग एरिया, कॉन्फ्रेंस हॉल, स्पा एवं योगा केंद्र, लाइब्रेरी और आर्ट गैलरी के अतिरिक्त वॉटरस्पोर्ट्स, कैमल वह हारस राइटिंग के साथ कल्चर एक्टिविटीज भी देखने को मिलेगी।

Tent City का खर्च

अगर हम इस किए खर्च की बात करें टोटल सिटी में रुकने के लिए आपको प्रारंभिक स्तर 8000 से ₹30000 तक का प्रतिदिन का व्यय आपको खर्च करना होगा।

अगर आप टेंट सिटी का मजा उठाना चाहते हैं तो जल्दी इसके लिए बुकिंग करें और इसका भरपूर मजा ले।

SSCNR

Leave a Comment